Category: शायरी

कोई ऐसा कर बहाना मेरी आस टूट जाए

तेरे वादों पे कहाँ तक मेरा दिल फ़रेब खाए
कोई ऐसा कर बहाना मेरी आस टूट जाए

~फ़ना निज़ामी कानपुरी

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

जिंदगी नाव की मानिंद यूँ ही बस चलती रहे

जिंदगी नाव की मानिंद यूँ ही बस चलती रहे
मुहब्बत की आग प्यासे दिलों में जलती रहे
लहरें तो सदा #आग़ोश में लेने को मचलती है
कुछ दूर से ही नज़रों से ये नज़र मिलती रहे

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

याद कर लेना मुझे तुम कोई भी जब पास न हो

याद कर लेना मुझे तुम कोई भी जब पास न हो

चले आएंगे इक आवाज़ में भले हम ख़ास न हों

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

“इश्क” आता तो दबें पाव है

“इश्क” आता तो दबें पाव है

“शोर” तो उसके “टूटने” पर होता है❤️….

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

राह में खतरे भी हैं लेकिन ठहरता कौन है

राह में खतरे भी हैं लेकिन ठहरता कौन है.
मौत कल आती है आज आ जाए डरता कौन है.

तेरे लश्कर के मुक़ाबिल में अकेला हूँ मगर
फैसला मैदान में होगा के मरता कौन है….

– राहत इंदौरी

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

न बिकने का इरादा हो तो क़ीमत और बढ़ती है

सफ़र में मुश्किलें आएँ तो जुर्रत और बढ़ती है
कोई जब रास्ता रोके तो हिम्मत और बढ़ती है

मेरी कमज़ोरियों पर जब कोई तनक़ीद करता है
वो दुशमन क्यों न हो उस से मुहव्बत और बढ़ती है

अगर बिकने पे आ जाओ तो घट जाते हैं दाम अक़सर
न बिकने का इरादा हो तो क़ीमत और बढ़ती है

~ नवाज़ देवबन्दी

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

दिल खुद ढूंढ लेता है तेरी बेरुखी के बहाने

दिल खुद ढूंढ लेता है तेरी बेरुखी के बहाने।

तुम्हे अपनी सफाई में कुछ कहने की जरूरत नही।।

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

तुझे माँगा

मेरी मुहब्बत की हकीकत…
तुम क्या जानो

सर झुकाया…

तो तुम्हें मागां
हाथ उठाया तो

तुझे माँगा

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
11

जुल्म के सारे हुनर हम पर यूँ आजमाये गये

जुल्म के सारे हुनर हम पर यूँ आजमाये गये,

जुल्म भी सहा हमने, और जालिम भी कहलाये गये!!

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

जब कभी दर्द की तस्वीर बनाने निकले

जब कभी दर्द की तस्वीर बनाने निकले

ज़ख़्म की तह में कई ज़ख़्म पुराने निकले

~अहया भोजपुरी

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1