Category: सत्य वचन

नाराजगी

“नाराज़गी” भी एक खूबसूरत रिश्ता है,
जिससे होती हैं वह व्यक्ति दिल और दिमाग, दोनों में रहता है

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

क्रोध किसको अधिक आता है

जो मन की पीड़ा को स्पष्ट रूप से नहीं कह सकता उसी को क्रोध अधिक आता है

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

कचरे में पड़ी रोटियां

कचरे में पड़ी रोटियाँ रोज यह कहती है की पेट भरते ही इंसान अपनी औकात भुल जाता हैं

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

बुरा समय

बुरा समय आपका जीवन के उन सत्यों से सामना करवाता है, जिनकी आपने अच्छे समय में कभी कल्पना भी नहीं की होती है

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

सुलझा हुआ इंसान

“सुलझा हुआ इंसान वह है जो अपने जीवन के निर्णय स्वयं लेता है, और उन निर्णयों के परिणाम के लिए के किसी दूसरें को दोष नहीं देता”

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

व्यक्तित्व

“व्यक्तित्व” की भी
अपनी वाणी होती है
जो “कलम”‘ या “जीभ”
के इस्तेमाल के बिना भी,
लोगों के “अंर्तमन” को छू जाती है..!!!

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

जो परिवर्तन हम देखना चाहते हैं

🌹जो परिवर्तन हम देखना चाहते हैं
उसकी शुरुआत
स्वयं से क्यों न करें….🌹

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

यातना

यातना

किसी टूटे हुए रिश्ते को
अन्तिम साँस तक
संभालने की कोशिश करना

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

“माँ” एक ऐसी बैंक है

“माँ” एक ऐसी बैंक है जहाँ आप हर भावना और दुख जमा कर सकते है।

#Mother #माँ #अम्मा

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry

मैं वो फल हूँ जो अपनो के पत्थर से टूटा हूँ

तू रंज न कर मैं तुझसे नही खुद से रुठा हूँ..

मैं वो फल हूँ जो अपनो के पत्थर से टूटा हूँ..

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
1